कामचोर प्रश्न और उत्तर कक्षा 8

NCERT Solutions for Class 8 Hindi Vasant Chapter 10 Kamchor

प्रश्न1. कहानी में मोटे-मोटे किस काम के हैं? इनके बारे में और क्यों कहा गया?

उत्तर: कहानी में ‘मोटे-मोटे किस काम के हैं’ से तात्पर्य उन बच्चों से है। जो पूरा दिन भर ऊधम मचाकर रखते हैं। इधर-उधर खेलते कूदते रहते हैं परंतु घर के कामकाज में जरा भी मदद नहीं करते।

प्रश्न2. बच्चों के ऊधम मचाने के कारण घर की क्या दुर्दशा हुई?

उत्तर: बच्चों के उधम मचाने से घर अस्त-व्यस्त हो गया। घर में धूल मिट्टी और कीचड़ का ढेर लग गया। मटके सुराहियाँ इधर-उधर लुढ़क गए। मटर की सब्जी बनने से पहले भेड़े खा गई। इस वजह से पारिवारिक शांति भी भंग हो गई और अम्मा ने तो घर छोड़ने का भी फैसला ले लिया।

प्रश्न3. ‘या तो बच्चाराज कायम कर लो या मुझे ही रख लो।” अम्मा ने कब कहा? और इसका परिणाम क्या हुआ?

उत्तर: पिताजी ने बच्चों को घर के कामकाज में हाथ बंटा ने को कहा, लेकिन उन्होंने इसके विपरीत सारे घर को तहस-नहस कर दिया। अम्मा जी ने परेशान होकर पिताजी से शिकायत की इसका परिणाम यह हुआ कि पिताजी ने घर की किसी भी चीज को बच्चों को हाथ न लगाने की हिदायत दे डाली। और साथ ही यह फरमान भी जारी किया कि जो घर के कामकाज में हाथ ना बटाए उसको रात का खाना ना दिया जाए।

प्रश्न4. ‘कामचोर’ कहानी क्या संदेश देती है?

उत्तर: ‘कामचोर’ कहानी संदेश देती है कि बच्चों को घर के कामों से अनभिज्ञ नही होना चाहिए। उन्हें बचपन से ही काम के प्रति प्रेरित करना चाहिए और उनकी उम्र और रुचि के हिसाब से काम देना चाहिए। ताकि उनमें काम के प्रति रुचि उत्पन्न हो सके और वे बड़े होकर कामचोर न बनें।

प्रश्न5. क्या बच्चों ने उचित निर्णय लिया कि अब चाहे कुछ भी हो जाए, हिलकर पानी भी नहीं पिएंगे।

उत्तर: नहीं, बच्चो द्वारा लिया गया निर्णय उचित नहीं था। अब चाहे कुछ भी हो जाए, हिलकर पानी भी नहीं पिएंगे इस तरह का निश्चय उन्हें और भी आलसी और कामचोर बना देगा। 

%d bloggers like this: